Wrestlers protest: महाराणा प्रताप के कार्यक्रम मे बृजभूषण शरण सिंह ने दिया विवादित बयान कहा ये मामला छुआछूत का है…….। वर्तमान समाचार

बीते सोमवार को देवलास मंदिर परिसर मे महाराणा प्रताप जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम मे पहुंचे भाजपा सांसद व कुश्ती संघ अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह ने कहा कि “मेरे उपर लगे सभी आरोप बेबुनियाद हैं और तो और मेरे साथ-साथ सभी का नार्को टेस्ट होना चाहिए तब जाकर सभी को पता चल जाएगा कि क्या सच है क्या झूठ”। इसी बीच उन्होंने कहा कि “ये मामला छुआछूत का है ये देवियां छुआछूत का रोग लेकर आ गई हैं, बृजभूषण ने कहा- जो पहलवान प्रदर्शन कर रहे हैं, वे आज तक ये नहीं बता पाए कि कब-कहां-क्या-क्या हुआ”? उन्होंने कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। मुहम्मदाबाद गोहना तहसील के देवलास मंदिर परिसर में महाराणा प्रताप की जयंती हिंदू कैलेंडर के हिसाब से सोमवार को मनाई गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सांसद बृजभूषण शरण सिंह को बुलाया गया था वे दोपहर करीब एक बजे हेलीकॉप्टर से पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने देवलास मंदिर परिसर मौजूद कुंड मे मत्था टेका फिर महाराणा प्रताप की प्रतिमा पर माल्यारर्पण किया फिर सीधे मंच पर पहुंचे।  मंच पर पहुंचते ही क्षत्रिय समाज तथा सिसोदिया समाज के लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि बृज भूषण शरण सिंह ने कहा कि देश की आन, बान, शान और स्वाभिमान से क्षत्रिय कुलभूषण महाराणा प्रताप। देश से उन्हें इतना प्यार था कि गुलामी की रोटी के बजाय उन्होंने घास की रोटी खाना मंजूर किया। इस दौरान उन्होंने युवाओं को नसीहत दी कि किताबों से जुड़िए, तभी समाज हमारा आगे बढ़ेगा। इस बीच एक जवाब में उन्होंने कहा कि मेरे ऊपर जो खिलाड़ियों को लेकर अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं, उस पर हम अपना नार्को टेस्ट कराने के लिए तैयार हैं। मगर उससे पहले जिन खिलाड़ियों ने आरोप लगाया है, उनका भी टेस्ट पहले होना चाहिए। इस दौरान उन्होंने युवाओं को नसीहत दी कि किताबों से जुड़िए, तभी समाज हमारा आगे बढ़ेगा। इस बीच एक जवाब में उन्होंने कहा कि मेरे ऊपर जो खिलाड़ियों को लेकर अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं, उस पर हम अपना नार्को टेस्ट कराने के लिए तैयार हैं। मगर उससे पहले जिन खिलाड़ियों ने आरोप लगाया है, उनका भी टेस्ट पहले होना चाहिए।

इस दौरान उन्होंने समाज के लोगों से कहा कि पांच जून को सभी लोग अयोध्या पहुंचे। जहां साधु-संत कुछ बातें बताएंगे। उस पर अमल करने की जरूरत है। कार्यक्रम के समापन पर उनके द्वारा कवि स्व. श्यामनरायण पांडेय की पत्नी रमावती पांडेय को अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया। वहीं विशिष्ट अतिथि परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप आज हर वर्ग के लोगों के लिए आदर्श हैं। युवाओं को इनसे प्रेरणा लेने की जरूरत है।

Show More

Related Articles

Back to top button