देर रात जंतर मंतर पर ये कैसा उपद्रव, किसने किया पहलवानों के साथ दुर्व्यहार। वर्तमान समाचार

बीती रात बुधवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर उपद्रव हो गया। प्रदर्शनकारी पहलवानों ने पुलिस पर उनके साथ मारपीट और गाली-गलौज करने का आरोप लगाया। खबर है कि पुलिस और पहलवानों के बीच बहस सबसे पहले तब शुरु हुई जब पहलवान प्रदर्शन स्थल पर बेड लाने की कोशिश कर रहे थे। इस पूरे प्रकरण का एक वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें साफ देखा जा सकता है कि पुलिसकर्मियों से बहस करने के दौरान साक्षी मलिक भावुक हो जाती हैं तो वहीं पहलवान विनेश फोगाट लगातार पुलिस वालों से बहस करती दिख रही हैं। विनेश फोगाट ने मीडिया से बातचीत में बताया “कि एक पुलिस वाले ने नशे में उनके भाई के साथ मारपीट की और एक अन्य ने उनके और संगीता फोगाट के साथ धक्का-मुक्की भी की”। द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक टोक्यो ओलिंपिक के मेडेलिस्ट बजरंग पुनिया ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि “बारिश होने की वजह से जमीन पूरी तरह गीली हो गई थी। जिसके चलते हमने सोचा कि बेड लगा लिया जाए, लेकिन उसके पहले ही पुलिस वालों ने हमारे साथ मारपीट और अभद्रता ही शुरु कर दी”। वहीं दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि प्रदर्शन स्थल पर कोई भी पुलिस वाला नशे में नहीं था और न ही किसी पहलवान के साथ मारपीट और अभद्रता की गई है। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा है कि “कुछ लोग ऐसे थे जिन्होंने प्रदर्शन स्थल पर खाट लाने की कोशिश की। जब पुलिसकर्मियों ने उनसे इस बारे में पूछा तो वे आक्रामक हो गए और बाकी के भी प्रदर्शनकारी उनके साथ आ गए। उन्होंने एक पुलिसकर्मी को गलत तरीके से रोका और उस पर नशे में होने का झूठा आरोप लगाने लगे। जो की बिलकुल भी सच नहीं था। अन्य अधिकारी घटनास्थल पर हैं और स्थिति अब नियंत्रण में है। किसी प्रदर्शनकारी को नहीं पीटा गया है”।

Show More

Related Articles

Back to top button