उत्तराखंड: रुद्रप्रयाग में भूस्खलन से तीन की मौत, 17 लापता, अगले चार दिनों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी| वर्तमान समाचार

रुद्रप्रयाग जिले में भारी भूस्खलन के बाद कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई और सत्रह अन्य लापता बताए जा रहे हैं। अधिकारियों के मुताबिक, पहाड़ से आए भारी मलबे में सड़क किनारे की दो दुकानें और ढाबे बह गए।

तीन लोगों की मौत, 17 लापता

जिला प्रशासन रुद्रप्रयाग से मिली जानकारी के मुताबिक, ”केदारनाथ से 16 किमी पहले रुद्रप्रयाग के गौरीकुंड में हुए भूस्खलन में 3 लोगों की मौत हो गई है और 17 लोग लापता हैं”।

सर्च ऑपरेशन चल रहा है

अधिकारियों के मुताबिक, जब भूस्खलन हुआ तो इन दुकानों और ढाबों में कुल चार स्थानीय लोग और सोलह नेपाली मूल के लोग मौजूद थे। घटना के बाद, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) द्वारा खेल में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

आज सुबह भूस्खलन के कारण उत्तराखंड के उत्तरकाशी में लिसा डिपो में वन विभाग कार्यालय के पास गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग का एक हिस्सा धंस गया। इससे वाहनों का परिचालन बाधित हो गया।

अधिकारियों ने बताया कि करीब 60 मीटर का हिस्सा धंस गया है। उन्होंने बताया कि भूस्खलन का कारण पास का टिहरी बांध है।

IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शनिवार को राज्य के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया। मौसम विभाग ने 6 से 9 अगस्त के बीच उत्तराखंड में भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्यवाणी की है।

Show More

Related Articles

Back to top button