उत्तर प्रदेश: जब गांधी परिवार की संपत्ती हड़पने की अतीक ने की थी कोशिश। वर्तमान समाचार

प्रयागराज: गैंगस्टर-राजनेता अतीक अहमद का उत्तर प्रदेश में दशकों पुराना माफिया साम्राज्य बीते 15 अप्रैल को आखिरकार पूरी तरह से खत्म हो गया मुख्यमंत्री योगी के मिट्टी में मिलाने की बात भी सही साबित हुई। बीते 15 अप्रैल शनिवार को प्रयागराज में पुलिस हिरासत में उसकी और उसके भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हलांकि, माफिया अतीक अहमद को लेकर एक बात बड़ी आम हो चुकी थी की वह संपत्ती हड़पने में कभी पीछे नहीं रहता था। शायद यही वजह है कि उसकी कुल संपत्ती भी 11,000 करोड़ थी जो की अपने आप में ही बहुत बड़ा आंकड़ा है। एक समय ऐसा भी आया था जब माफिया अतीक अहमद ने गांधी परिवार की संपत्ती भी हड़पनी चाही थी। दरहसल, प्रयागराज के सिविल लाइन्स में पैलेस सिनेमा के पास इंदिरा गांधी के पति फिरोज गांधी की चचेरी बहन वीरा गांधी का एक बहुत पुराना मकान था जिसपर अतीक ने वर्ष 2007 मे कब्जा कर लिया था। तब अतीक अहमद फूलपुर से सांसद भी था। वीरा गांधी ने राज्य सरकार और जिला प्रशासन से भी मदद की गुहार लगाई थी लेकिन अतीक का शहर में दबदबा होने के कारण कोई पुलिस अधिकारी पीड़ित की मदद करने के लिए आगे नहीं आया। तब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दखल के बाद अतीक अहमद ने वीरा गांधी को उनके पुष्तैनी मकान की चाबी वापस कर दी थी।

Show More

Related Articles

Back to top button