उत्तर प्रदेश: हिंदू महासभा के पदाधिकारियों ने कराई थी गोकशी, रिज़वान और शानू को फसाने की थी साजिश। वर्तमान समाचार

आगरा: एत्माद्दौला थाना क्षेत्र के गौतम नगर की एक गुफा के पास गौकशी कर माहौल खराब करने की साजिश का पुलिस की विवेचना में खुलासा हुआ है। पुलिस के मुताबिक इस घटना के साजिशकर्ता हिंदू महासभा के ही पदाधिकारी थे। इस पूरे मामले में बात यह निकलकर आई है कि एक गुट दूसरे को फसाना चाहता था। पुलिस का कहना है कि इस पूरे प्रकरण का मुख्य साजिशकर्ता संजय जाट है जो हिंदू महासभा का राष्ट्रीय प्रवक्ता भी है।

Hindu Mahasabha Vartman Samachar
(सांकेतिक फोटो)- फोटो: वर्तमान समाचार

क्या है पूरा मामला।

रामनवमी पर गोकशी की वारदात हुई थी। गोमांस बरामद किया गया था। अखिल भारतीय हिंदू महासभा के पदाधिकारी भी मौके पर घटना स्थल पर पहुंचे थे। गढ़ी चांदनी निवासी पदाधिकारी जितेंद्र कुशवाहा ने मुकदमा भी दर्ज कराया था। उन्होंने बताया कि उन्हें गोकशी की सूचना मिली थी। वो कार्यकर्ता विशाल और मनीष के पास पहुंचे थे।

रिज़वान, शानू और नकीम को फसाने की थी साजिश।

एत्मद्दौला निवासी रिज़वान उर्फ काल्टा, लोहामंडी निवासी विज्जू उर्फ छोटू, आलमगंज निवासी नकीम को नामजद किया गया था। इतना ही नहीं आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए थाने का घेराव कर प्रदर्शन भी किया गया था। DCP लाइन सूरज राय ने मीडिया से बातचीत में बताया की विवेचना में कई तथ्य सामने आए हैं। इमरान कुरैशी उर्फ ठाकुर और शानू उर्फ इल्ली को गिरफ्तार किया गया था। नामजद आरोपियों का गोकशी से कोई लेना-देना नहीं था।  

आपसी रंजिश थी कारण।

ACP आर.के. सिंह के मुताबिक अखिल भारतीय हिंदू महासभा के मुताबिक हिंदू महासभा का राष्ट्रीय प्रवक्ता मुख्य साजिशकर्ता है। इनका विवाद नदीम, रिज़वान, शानू से काफी समय से चला आ रहा है। नकीम नगर निगम कर्मी है और उसने पूर्व में झल्लू और इमरान को जेल भिजवाया था। इसीलिए गोकशी कर नकीम को फसाने की साजिश रची गई थी।

Show More

Related Articles

Back to top button