उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव 2023: कांग्रेस और सपा के कई नेताओं ने थामा भाजपा का दामन। वर्तमान समाचार

उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के पहले चरण के मतदान के पहले लगातार नेताओं का राजनीतिक दलों मे आना और जाना लगा हुआ है। इसी बीच सरोजनी नगर से जिला पंचायत सदस्य ने पलक रावत ने भाजपा का दामन थाम लिया। समाजवादी पार्टी के अलावा कांग्रेस के भी कई नेता भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष डी.पी. सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इतना ही नहीं कांग्रेस के शहर के भी महासचिव संजय गिरी भी भाजपा में शामिल हुए और तो और कांग्रेस के टिकट पर पार्षदी का चुनाव लड़ चुके रणवीर सिंह कलसी भी भाजपा में शामिल हो गए। इसके पहले शाहजहांपुर की महापौर प्रत्याशी अर्चना वर्मा ने समाजवादी पार्टी छोड़ भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। आज गुरुवार को भी हैदरगंज द्वीतीय वार्ड से पार्षद तारा चंद रावत भी भाजपा में शामिल हो गए हैं।

पहले चरण के लिए 44226 उम्मीदवार मैदान में।

नगर निकाय चुनावों के पहले चरण के चुनाव की तारीख करीब आ रही है, ऐसे में नगर पालिका और नगर पंचायत अध्यक्ष समेत 86 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार के मुताबिक 4 मई को पहले चरण में 7952 पदों पर 44226 उम्मीदवारों के बीच मतदान होना है। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज ने कहा कि “जनपद आगरा की नगर पंचायत दयालबाग में अध्यक्ष निर्विरोध चुना गया है। इसके अलावा आगरा, मथुरा, गोरखपुर और मुरादाबाद नगर निगमों में दो – दो तथा झांसी, फिरोजाबाद एवं सहारनपुर नगर निगम में एक-एक पार्षद निर्विरोध चुन लिए गए हैं”। झांसी में नगर पालिका चिरगांव अध्यक्ष को निर्विरोध चुना गया है। इसके अलावा साथ ही 36 नगर पालिका सदस्य निर्विरोध चुने गए हैं। आगरा से 9 सदस्य, रामपुर एवं शामली से 4-4, सहारनपुर से 3, गोंडा, झांसी, मथुरा, लखीमपुर खीरी से 2-2, जालौन, फतेहपुर, फिरोजाबाद, महराजगंज, संभल, सीतापुर, हरदोई से एक-एक नगर पालिका सदस्य निर्विरोध चुन लिया गया।

Show More

Related Articles

Back to top button