उत्तर प्रदेश: सुप्रीम कोर्ट में अतीक और अशरफ समेत 183 अन्य के एनकाउंटर की जांच के लिए डाली गई याचिका। वर्तमान समाचार

बीते रविवार को अधिवक्ता विशाल तिवारी द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अतीक अहमद और अशरफ समेत 183 अन्य लोगों के 2017 से एनकाउंटर की जांच के लिए एक याचिका डाली गई है। याचिका में गैंगस्टर से राजनेता बने अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्याओं की जांच के लिए शीर्ष अदालत के एक पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में एक स्वतंत्र विशेषज्ञ समिति के गठन की भी मांग की गई है। बता दें कि अतीक और उसके भाई अशरफ की बीते शनिवार को तीन लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। जो पत्रकार बनकर आए थे। यह पूरा वाक्या अतीक का मेडिकल कराकर लौटते वक्त रास्ते में ही हुआ, जब कुछ पत्रकारों ने अतीक से सवाल पूछना चाहा। पुलिस के मुताबिक तीनों कातिलों के नाम लवलेश तिवारी, अरुण कुमार मौर्य और सनी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक दाखिल की गई याचिका मे मांग की गई है कि जांच के लिए एक स्वतंत्र जांच कमिटी बनाई जाए जो अतीक और अशरफ की हत्या की जांच करे। इतना ही नहीं याचिका में यह भी कहा गया है कि पुलिस की इतनी बड़ी लापरवाही देश के लोकतंत्र और कानून के लिए बहुत बड़ी खतरा है। एक ऐसा समाज जहां पुलिस न्याय करने का जरिया बन जाए यह उस समाज के लिए भी अच्छा नहीं है। न्याय करने का अधिकार केवल न्याय पालिका को है। फर्जी एनकाउंटर की समाज में कोई जगह नहीं है। ऐसा करके हम अपराधी को तो खत्म कर सकते हैं लेकिन अपराध को नहीं।

Show More

Related Articles

Back to top button