यूपी: भारी बारिश के कारण लखनऊ और कई अन्य जिलों में गंभीर जलभराव, आईएमडी ने और बारिश की भविष्यवाणी की है| वर्तमान समाचार

उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही बारिश के कारण राज्य की राजधानी लखनऊ और अन्य जिलों में भीषण जलभराव हो गया है। लखनऊ में कल रात से मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। भारी बारिश के कारण पूरा शहर जलभराव की समस्या से जूझ रहा है।

मौसम विभाग ने चेतावनी जारी कर लोगों से घर में रहने और सतर्क रहने की अपील की है। एडवाइजरी में निचले इलाकों में बाढ़ की संभावना का जिक्र किया गया है और लोगों को असुरक्षित इमारतों से दूर रहने और पेड़ों के संपर्क से बचने की सलाह दी गई है। मौसम की स्थिति को देखते हुए 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूल अस्थायी रूप से बंद कर दिए गए हैं।

आईएमडी ने और बारिश की भविष्यवाणी की है

लखनऊ में आज भी भारी बारिश और बिजली गिरने की आशंका है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने राज्य भर में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की गतिविधि के साथ छिटपुट वर्षा या गरज के साथ छींटे पड़ने की भविष्यवाणी की है।

जिला मजिस्ट्रेट ने अतिरिक्त रूप से एक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें लोगों से घर के अंदर रहने का आग्रह किया गया है। चिंता यह है कि भारी बारिश के अलावा तेज बिजली भी गिर सकती है। नतीजतन, लोगों को जरूरी होने पर ही बाहर निकलने की सलाह दी गई है।

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले तीन घंटों में बहराईच, बाराबंकी, गोंडा, हरदोई, लखीमपुर-खीरी, लखनऊ और सीतापुर में तेज तूफान और बिजली गिरने के साथ भारी बारिश की संभावना है।

लगातार बारिश के कारण गोमती नदी में जल स्तर बढ़ने पर जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने कहा, “गोमती नदी में जल प्रबंधन के लिए हम निरीक्षण कर रहे हैं ताकि हम जान सकें कि शहरी क्षेत्र से पानी की निकासी कैसे की जाए हम दो गेट खोल दिए हैं और दो गेट फिर से खोलने जा रहे हैं ताकि शहर से पानी की निकासी हो सके । नगर पालिका परिषद की हमारी टीम लखनऊ के हर क्षेत्र में काम कर रही है। उम्मीद है, हम जल्द ही जलजमाव की समस्या का समाधान कर लेंगे।”

इन बातों का रखें ध्यान

भारी बारिश के चलते मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी कर चेतावनी दी है कि बाढ़ जैसे हालात पैदा हो सकते हैं। ऐसे में पक्के मकान में ही रहने की सलाह दी जाती है। भारी बारिश के कारण ट्रैफिक जाम हो सकता है, इसलिए घर से निकलने से पहले सोच-विचार कर लें। नालों में पानी का स्तर बढ़ सकता है, इसलिए उनसे सुरक्षित दूरी बनाए रखें। इसके अतिरिक्त, पानी के निचले स्तर पर बने पुलों से दूर रहें।

सीएम योगी ने जारी की एडवाइजरी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बारिश को देखते हुए संबंधित जिलों के अधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य चलाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी क्षेत्र का दौरा कर राहत कार्य पर नजर रखें। आपदा से प्रभावित लोगों को अनुमन्य राहत राशि तत्काल वितरित की जाय।

मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिये हैं कि जलभराव की स्थिति में जल निकासी की प्रभावी व्यवस्था की जाय। नदियों के जलस्तर पर लगातार निगरानी रखी जाए। फसलों को हुए नुकसान का आकलन कर रिपोर्ट शासन को उपलब्ध कराई जाए ताकि प्रभावित किसानों को नियमानुसार मुआवजा उपलब्ध कराया जा सके।

Show More

Related Articles

Back to top button