दुनिया को अलविदा कह गया मलयालम सिनेमा का ये कलाकार। वर्तमान समाचार

पूर्व मलयालम अभिनेता मामुकोया, जिन्हें दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था आज दोपहर उनका निधन हो गया है। अभिनेता केरल के मलप्पुरम जिले के वांडूर में एक फुटबॉल टूर्नामेंट के उद्घाटन के दौरान गिर गए थे। वे कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में अध्यक्षता कर रहे थे। जबकि उन्हें वांडूर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, बाद में उन्हें कोझिकोड के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया। यह कहा गया था कि अभिनेता की स्थिति स्थिर है। बता दें उन्हें कथित तौर पर दिल का दौरा पड़ा जिसके बाद रक्तस्राव हुआ और बुधवार दोपहर 76 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया। कोझिकोड के कल्लई में पैदा हुए मामुक्कोया कम उम्र से ही थिएटर मे सक्रिए हो गए थे। रंगमंच ने अन्यारुदे भूमि 1979 के साथ फिल्मों की शुरुआत की। बाद में, प्रतिष्ठित लेखक मुहम्मद बशीर की सिफारिश के साथ, उन्हें फिल्म सुरुमाइत्ता कन्नुकल में एक भूमिका दी गई। बतौर मुख्य किरदार वे सबसे पहले दूर-दोरे ओरु कूडु कूट्टम जो 1986 मे, जिसे सिबी मलयिल ने निर्देशित किया था और इसमें मोहनलाल मुख्य भूमिका में थे। उन्हें सबसे ज्यादा लोकप्रियता निर्देशक सथ्यन एंथिकैड के साथ फिल्में करने से मिलीं। उन्हीं की नादोदिकट्टु 1987 में उन्होंने गफूर का किरदार निभाया था, जिसे काफी प्रसिद्धि मिली थी। उन्होंने रामजी राव स्पीकिंग, वडक्कू नोकियंथ्रम, थलयनमनथ्रम, संदेशम और हिज़ हाइनेस अब्दुल्ला में भी अभिनय किया। उनके निधन पर देश भर के कलाकारों ने शोक जताया है और दिवंगत आत्मा की शांती के लिए कामना की है।

Show More

Related Articles

Back to top button