पिता की हत्या में कार्यवाही करने पर युवक पर झूठा अपहरण का आरोप, थाना पुलिस कर रही युवक को प्रताड़ित। वर्तमान समाचार

मेरठ- पिता की हत्या में पेरोकारी करने पर पुत्र को आरोपी पक्ष ने अपहरण के आरोप में फंसा दिया। आज पुत्र पहुंचा एसएसपी कार्यालय।

पिता की हत्या की शिकायत जब संबंधित थाने में पुत्र द्वारा की गई। तो पुलिस खुद युवक को प्रताड़ित कर रही है। उसने संबंधित थाने के प्रभारी से शिकायत की तो अभद्रता करते युवक को थाने से भगा दिया गया। इन्हीं वजहों से पीड़ित न्यायालय में साक्ष्य समय से पेश कर पा रहा हैं। जिस वजह से आरोपी पक्ष के अन्य मुल्ज़िम को जमानत मिल रही है।

जानी थाना क्षेत्र के ग्राम किठोली में रहने वाले सुनील कुमार ने बताया, कि दो साल पहले उसके पिता तेजपाल की जमीनी रंजिश के चलते गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बीच-बचाव करा रहे सुनील के भाई अंकित के भी गोली लगी थी। जिसका मुकदमा कमल सिंह, धर्म सिंह, प्राची और भोपाल के विरुद्ध दर्ज कराया गया था। डिस्ट्रिक्ट जज के यहां से प्राची को जमानत मिल गई। जबकि उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने भोपाल सिंह को जमानत दे दी। कमल और धर्म सिंह अभी जेल में है।

आरोप है कि प्राची और भोपाल सिंह मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे हैं। उन्होंने कचहरी के बाहर सुनील पर हमला करने की कोशिश भी की थी। अब प्राची ने अपनी बेटी के अपहरण का आरोप सुनील पर लगा दिया। जिस वजह से संबंधित थाने की पुलिस सुनील को प्रताड़ित कर रही है। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने संबंधित सर्किल के सीओ को जांच कर कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।

पिता की हुई दर्दनाक हत्या पर कोई कार्यवाही नहीं हुई जबकि उल्टा खुद आरोपियों द्वारा पीड़ित सुनील कुमार को झूठा केस बनाकर फँसाने का प्रयास किया जा रहा है। तो आज अपने बचाव और खुले घूम रहे पिता के हत्यारों पर कानूनी कार्यवाही करने की मांग करने पुत्र पहुँचा एसएसपी कार्यालय।

एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने संबंधित सर्कल के सीओ को मामले की जांच कर कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।

Show More

Related Articles

Back to top button