दिल्ली तक पहुंची मणिपुर हिंसा की आग, कुकी छात्रों को बनाया निशाना। वर्तमान समाचार

मणिपुर में जैसे-तैसे स्थिति में थोड़ा सुधार आया ही था कि अब मणिपुर हिंसा का प्रभाव अब राजधानी दिल्ली में भी फैलता दिख रहा है। दिल्ली यूनिवर्सिटी नॉर्थ कैंपस इलाके में रहने वाले कुकी छात्रों के एक समूह ने आरोप लगाया कि उन पर गुरुवार की रात मेइती के एक समूह ने हमला कर दिया था। कुकी छात्रों के अनुसार, लगभग 30 लोगों के एक समूह ने पटेल क्षेत्र में प्रार्थना सभा के बाद तीन महिलाओं और कुछ पुरुषों को घेर लिया। प्रार्थना सभा में भाग लेने के बाद महिलाएं अपने पीजी के लिए घर जा रही थीं, जब लगभग 30 लोगों के समूह ने उन्हें रोका और उनकी आईडी मांगी। इसके बाद समूह ने मेइतेईलॉन में बात की और इस तरह छात्रों को एहसास हुआ कि वे मैतेई ही हैं। एक छात्र ने इंडिया टुडे को बताया कि इसके बाद समूह ने उन पुरुषों के साथ मारपीट शुरू कर दी जो महिला के साथ घर गए थे और महिलाओं से बलात्कार करने की धमकी भी दी। एक कुकी छात्र ने कहा कि इलाके में गश्त कर रही पुलिस के आने के बाद ही हमले को रोका जा सका। शुक्रवार को छात्रों ने मौरिस नगर थाने में एक एफआईआर भी दर्ज कराई। पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार करने के बाद छात्रों ने थाने के बाहर धरना दिया। दिल्ली की यह घटना 3 मई को ऑल ट्राइबल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ मणिपुर (एटीएसयूएम) की एक रैली के बाद मणिपुर में मैतेई और कुकी जनजाति के बीच हुई हिंसा के बाद की है। हिंसा ने पूरे राज्य को कई दिनों तक जकड़ रखा है और केंद्र सरकार ने स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए 14 अर्धसैनिक बलों को तैनात किया है।

Show More

Related Articles

Back to top button