ज्ञानवापी के पैरोकार पर हुआ इंजेक्शन से हमला, शरीर में घबराहट की शिकायत। वर्तमान समाचार

अखिल भारतीय वैदिक सनातन संघ के पूर्व अध्यक्ष और ज्ञानवापी मामले के पैरोकार जितेंद्र सिंह विसेन के ऊपर मंगलवार की रात को किसी ने सिरिंज से हमला कर दिया। हमलावर पीछे से आए और जितेंद्र को इंजेक्शन चुभाकर भाग निकले। जमीन पर गिरकर उन्हें चिल्लाता देख आस-पास के लोगों ने उनको राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने पूरी जाँच करने के बाद बताया कि उनकी बॉडी में इंजेक्शन से कोई दवा या किसी प्रकार का वायरस इंजेक्ट किया गया हो।

कंपन और घबराहट की है शिकायत।

जितेंद्र सिंह ने पत्रकारों से बातचीत मे बताया कि वे घर आ गए हैं और फिलहाल उन्हें घबराहट और कंपन की शिकायत है। जाँच के लिए सैंपल ले लिया गया है, जिसकी रिपोर्ट एक सप्ताह बाद आनी है। तब तक डॉक्टरों ने उन्हें कुछ दवाएं दी हैं जो एक हफ्ते तक खानी हैं। आगे उन्होंने कहा कि दो लोगों ने चुपके से आकर उनकी गर्दन पर इंजेक्शन लगाया था जिससे उन्हें काफी दर्द और जलन होने लगी थी। आस-पास के लोग ही मुझे अस्पताल लेकर पहुंचे थे पहले मुझे सरदार पटेल अस्पताल में भर्ती कराया गया और फिर राम मनोहर लोहिया ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार किया फिर सैंपल लेकर जाँच के लिए भेज दिया। जानकारी के मुताबिक जितेंद्र पहले भी अपने ऊपर हमले की आशंका जता चुके हैं। उनके वकील ने काफी पहले से उन्हें सुरक्षा प्रदान कराए जाने की मांग सरकार से की थी।

Show More

Related Articles

Back to top button