फ़िलिस्तीनी कैदी की मौत के बाद इज़रायल पर दागी गईं कई मिसाइलें शुरु हुआ विद्रोह। वर्तमान समाचार

इज़राइल की जेल सेवा ने बताया कि उसकी जेल में बंद  फ़िलिस्तीनी कैदी जो लगभग तीन महीने से भूख हड़ताल पर था, का मंगलवार की तड़के सुबह मौत हो गई। एक रिपोर्ट के मुताबिक जैसै ही उसकी मौत की खबर आई, गाजा पट्टी में फिलिस्तीनी विद्रोहियों ने उनकी मौत की खबर आने के तुरंत बाद दक्षिणी इज़राइल पर एक साथ कई मिसाइलें दाग दीं। पहले से ही तनाव से ग्रस्त इज़रायल और गाजा के बीच अब यह फिर से एक नए कन्फलिक्ट की शुरुआत है। बता दें कि इस समय में खादर अदनान के निधन से इज़रायल और उग्रवादी फिलिस्तीनी संगठनों के बीच संघर्ष की संभावना काफी ज्यादा बढ़ गई है। बता दें इस्लामिक जिहाद से ताल्लुक रखने वाले आतंकी अदनान काफी लंबे समय से भूख हड़ताल पर था। इसी में तथाकथित प्रशासनिक निरोध नीति के तहत अभियोग या परीक्षण के बिना अनिश्चित काल तक कारावास के विरोध में 2015 में 55 दिनों की हड़ताल शामिल थी। हाल के वर्षों में, कई फिलिस्तीनियों ने प्रशासनिक हिरासत में कैद किए जाने के विरोध में लंबे समय तक भूख हड़ताल की है। अधिकांश मामलों में, एक बार उनके स्वास्थ्य में नाटकीय रूप से गिरावट आने के बाद, इज़राइल ने अंततः उन्हें रिहा कर दिया। पकड़े जाने के दौरान किसी की मृत्यु नहीं हुई है, लेकिन कई लोगों ने अपरिवर्तनीय मस्तिष्क क्षति का अनुभव किया है।  

Show More

Related Articles

Back to top button