राहुल गांधी ने उठाया ‘एप्पल नोटिफिकेशन’ का मुद्दा, कहा- फोन टैप किए जा रहे हैं| वर्तमान समाचार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को दावा किया कि कई विपक्षी नेताओं के फोन टेप किए जा रहे हैं और उन्होंने मोबाइल दिग्गज एप्पल द्वारा भेजे गए कथित अधिसूचना का हवाला दिया। कई विपक्षी नेताओं ने मंगलवार को दावा किया कि उन्हें ऐप्पल से एक अलर्ट मिला है जिसमें उन्हें चेतावनी दी गई है कि “राज्य-प्रायोजित हमलावर उनके आईफ़ोन से दूर से छेड़छाड़ करने की कोशिश कर रहे हैं” और उन्होंने अपने एक्स हैंडल पर संदेश के कथित स्क्रीनशॉट पोस्ट किए।

उन्होंने केंद्र सरकार को चुनौती देते हुए कहा, “जितना हो सके फोन टैपिंग करो, आप मेरा फोन ले सकते हो, मैं डरने वाला नहीं हूं। यह अपराधियों और चोरों का काम है।” “मेरे कांग्रेस कार्यालय में कई लोगों को यह संदेश मिला है में, केसी वेणुगोपाल जी, सुप्रिया, पवन खेड़ा को भी यह संदेश मिला है वे (भाजपा) युवाओं का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं।”

“बहुत कम लोग इसके खिलाफ लड़ रहे हैं लेकिन हम डरे हुए नहीं हैं। आप जितनी चाहें उतनी (फोन) टैपिंग कर सकते हैं, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। अगर आप मेरा फोन लेना चाहते हैं तो मैं आपको दे दूंगा।”

नंबर 2 हैं अडानी

राहुल गांधी ने अडानी का मुद्दा उठाते हुए कहा, ”…पहले मैं सोचता था कि नंबर 1 पीएम मोदी हैं, नंबर 2 अडानी हैं और नंबर 3 अमित शाह हैं, लेकिन यह गलत है, नंबर 1 अडानी हैं, नंबर 2 पीएम मोदी हैं  और नंबर 3 अमित शाह हैं। हम भारत की राजनीति को समझ चुके हैं और अब अडानी जी बच नहीं सकते। ध्यान भटकाने वाली राजनीति चल रही है।”

‘अडानी सरकार’ को देश से हटाने पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, “यह एक दिलचस्प समस्या है। मेरे पास कुछ विचार हैं। समय आने पर हम दिखा देंगे कि अडानी सरकार को कैसे हटाया जा सकता है। देश में अभी जिस तरह का एकाधिकार चल रहा है, अडानी जी उसके प्रतीक हैं। बीजेपी की वित्तीय व्यवस्था सीधे तौर पर उनसे (अडानी) जुड़ी हुई है।”

लोकतंत्र में इसके लिए कोई जगह नहीं

कई विपक्षी नेताओं द्वारा अपने एप्पल डिवाइस को ‘हैक’ करने का आरोप लगाए जाने पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, ”यह दुखद बात है मुझे यह संदेश सुबह मिला जिसमें कहा गया है कि आपका डिवाइस हैक किया जा रहा है या निगरानी की जा रही है।” ‘राज्य प्रायोजित निगरानी क्यों की जा रही है? लोकतंत्र में इसके लिए कोई जगह नहीं है। इसकी जांच होनी चाहिए।”

Show More

Related Articles

Back to top button