पाकिस्तान: कहीं सड़को पर भीड़, तो कहीं जलते स्मारक, क्यों चलाई फौज ने गोलियां, क्या फिर तख्तापलट की ओर बढ़ रहा पाकिस्तान? वर्तमान समाचार

पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान नियाजी की कोर्ट के बाहर से गिरफ्तारी के बाद से उनके समर्थकों मे आक्रोश पैदा हो गया है जो खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा। बता दें कि सोमवार को पाकिस्तान की एंटी करप्शन एजेंसी ने गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद से ही उनकी पार्टी के कार्यकर्ता सड़कों पर हैं। कहीं पर दुकानों को आग लगा दी गई तो कही वाहनों के क शोरूम को ही जला दिया गया, हैरान करने वाली बात यह रही की आक्रोशित भीड़ ने सेना के ऊपर भी हमला कर दिया। पाकिस्तानी वायुसेना के कई स्मारकों मे आग लगा दी गई और तो और सुरक्षा और शांती व्यव्सथा बनाए रखने के लिए तैनात सुरक्षा बलों को भी निशाना बनाया गया है। खैबर पख्तूनख्वा के असेंबली स्क्वायर के दृश्य, चघी पर्वत के रेप्लिका वाले स्मारक को पेशावर में प्रदर्शनकारियों द्वारा आग लगा दी गई। पुलिस द्वारा प्रदर्शनकारीयों को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले दागे जा रहे हैं।

पाकिस्तानी सेना के कोर कमांडर के घर को भी बनाया निशाना।

लाहैर में पाकिस्तानी सेना के कोर कमांडर के घर को निशाना बनाते हुए भीड़ ने पहले तो लूटपाट की और फिर घर को आंग लगा दी। एक शख्स ने तो कोर कमांडर के घर में पला मोर तक उठा लिया एक वायरल वीडियो मे शख्स को यह कहते हुए देखा जा सकता है कि “इसे मैने कोर कमांडर के घर से उठाया है क्योंकि यह आवाम के पैसों से आया है, जिसे उन्होंने चोरी किया है और अब मैं अपना पैसा वापस ले रहा हूं”।  

सोशल मीडिया समेत इंटरनेट ठप।

पाकिस्तान में प्रदर्शनों को देखते हुए सरकार ने अस्थायी तौर पर इंटरनेट समेत तमाम सोशल मीडिया ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। पूरे देश में धारा 144 लोगू कर दी गई है।  

Show More

Related Articles

Back to top button