Odisha: हनुमान जयंती की रैली के दौरान भड़की हिंसा, लगाया गया कर्फयू। वर्तमान समाचार

उडिशा: बीते शुक्रवार को हनुमान जयंती रैली के दौरान ताजा हिंसा की खबरों के बाद शनिवार को ओडिशा के संबलपुर जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया है। संबलपुर उपजिलाधिकारी ने शहर की वर्तमान स्थिति की जानकारी मिलने के बाद दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत कर्फ्यू लगाने का आदेश दे दिया है, जिसमें कहा गया है कि पूरे जिले में किसी भी व्यक्ति या समूह को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। धनुपाली, खेतराजपुर, ऐंथापाली, बरेईपाली थाना एवं सदर व संबलपुर थाना के अंतर्गत आने वाले इलाकों मे तत्काल प्रभाव से अगली सूचना तक किसी को भी बाहर निकलने की इजाज़त नहीं होगी। हालांकि आपात स्थिति में लोगों को सुबह 8 बजे से 10 बजे तक और दोपहर 3.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी करने की अनुमति दी गई है। इतना ही नहीं उपजिलाधिकारी ने कहा कि इस आदेश का उल्लंघन करने वालों को बिलकुल भी बख्शा नहीं जाएगा। बता दें बीते दिन हुई इस ताजा हिंसा में कई दुकानों में आग लगा दी गई और कई लोग घायल भी हुए हैं। समाचार एजंसी पीटीआई के मुताबिक सरकार ने समारोह के मुख्य आकर्षण ‘महाआरती’ कार्यक्रम के दौरान करीब 1500 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया था ताकि किसी भी तरह की अनहोनी से निपटा जा सके। हनुमान जयंती में 35 जत्थों ने हिस्सा लिया था, इस दौरान एक बाइक रैली का भी आयोजन किया गया था जो शाम को ब्रक्सपाल हनुमान मंदिर से शुरू होकर संवेदनशील इलाकों से होकर गुजरी थी। इसी शोभायात्रा में निकाली गई बाइक रैली के दौरान दो समुदायों के बीच टकराव की स्थति उत्पन्न हुई और धीरे-धीरे यह बढ़ती चली गई जैसे ही संघर्ष सड़कों पर फैला कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया और कुछ दुकानों में आग लगा दी गई। झड़प के दौरान पथराव की घटना में कुल 10 पुलिस कर्मी और हनुमान जयंती समन्वय समिति के कार्यकारी अध्यक्ष दामोदर कार सहित लगभग 12 सदस्य घायल हुए हैं। भुवनेश्वर और कटक में सभी पुलिस अधीक्षकों और पुलिस उपायुक्तों को अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है। फिलहाल प्रशासन ने किसी भी तरह की रैली व जुलूस निकालने पर 24 अप्रैल तक सख्त रोक लगा रखी है।

Show More

Related Articles

Back to top button