Lucknow: मुख्तार अंसारी गैंग के शूटर जीवा की कोर्ट के अंदर हत्या। वर्तमान समाचार

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैसरबाग कोर्ट में बुधवार दोपहर पेशी पर आए बदमाश संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा (48) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जीवा मुख्तार अंसारी गैंग का शूटर था। हमलावर वकील की ड्रेस में आया था। उसने दोपहर 3.50 बजे 9 MM की पिस्टल से कोर्ट रूम में ही 5-6 राउंड फायरिंग की। हमले में जीवा की मौके पर ही मौत हो गई। फायरिंग में एक बच्ची, उसकी मां और दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। वारदात के बाद मौके से भाग रहे हमलावर को वकीलों ने पकड़ लिया। उसकी पिटाई की। पुलिस ने किसी तरह उसे छुड़ाया। हमलावर का नाम विजय उर्फ आनंद यादव है। वह जौनपुर का रहने वाला है। उस पर आजमगढ़ और जौनपुर में केस दर्ज हैं।विजय ने जीवा की हत्या क्यों की, यह पता नहीं चल पाया है। कोर्ट बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है। वारदात के बाद वकीलों ने पुलिस से धक्का-मुक्की की। कई पुलिसकर्मियों को गेट से बाहर निकालकर गेट बंद कर दिया। विजय ने जीवा की हत्या क्यों की, यह पता नहीं चल पाया है। कोर्ट बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है। वारदात के बाद वकीलों ने पुलिस से धक्का-मुक्की की। कई पुलिसकर्मियों को गेट से बाहर निकालकर गेट बंद कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना की जांच के लिए SIT का गठन कर दिया है। 7 दिन में रिपोर्ट मांगी है। SIT में ADG टेक्निकल मोहित अग्रवाल, नीलब्जा चौधरी और अयोध्या आईजी प्रवीण कुमार को शामिल किया गया है। वहीं, स्पेशल डीजी प्रशांत कुमार ने कचहरी पहुंचकर मामले की जानकारी ली है। इससे पहले, 15 अप्रैल को प्रयागराज में माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की पुलिस कस्टडी में हत्या हुई थी। यानी, 53 दिन में पुलिस कस्टडी में यह तीसरी हत्या है।

Show More

Related Articles

Back to top button