मेरठ: बारिश से लोगों को मिली राहत, लेकिन तेज तूफान के चलते शहर में हालात बेहाल। वर्तमान समाचार

मेरठ:  उत्तर प्रदेश के मेरठ में मौसम ने गजब अंगड़ाई ली है। आंधी तूफान के साथ बारिश ने किया मौसम सुहाना। साथ ही आए तेज तूफान से हुआ भारी नुकसान।

शाम आंधी तूफान से कई स्थानों पर 11 हजार की लाइन पर गिरे पेड़। मेरठ के कई क्षेत्रों में लाइनों पर पेड़ गिरने से विद्युत सप्लाई हुई प्रभावित। कई इलाकों में विद्युत सप्लाई बाधित होने से पानी की हुई किल्लत।

मेरठ में देर शाम आई आंधी तूफान से कई स्थानों पर पेड़ टूट कर या तो सड़को पर गिर गए। और फिर बिजली के 11 हजार वाली लाइन पर गिरे जिसे कई स्थानों पर मार्ग अवरूद्ध हुआ। वही कई इलाकों में बिजली न आने से पानी की किल्लत देखी गई है।

मेरठ में देर शाम आई आंधी तूफान में मेरठ के वीआईपी क्षेत्र सिविल लाइन इलाके और शहर से देहात तक सड़को और बिजली के तारो पर पेड़ गिर हुए पड़े है। जिन्हे हटाने के लिए विद्युत विभाग की कई टीम लगी हुई हैं। वही सड़को पर गिरे पेड़ो को हटाने की लिए नगर निगम को होश नही है। जिसके कारण कई स्थानों पर मार्ग अवरूद्ध देखा गया है।

मेरठ के कई इलाके पूरी तरह से अंधेरे में डूबे हुए पड़े है। जिनमे विद्युत सप्लाई के प्रयास किए जा रहे है। बिजली के न आने से जनता पानी के लिए तरसती देखी गई है। हर कोई बिजली आने का इंतजार कर रहा है। वही लोग बिजली घरों पर फोन करके यही पूछते नजर आए की बिजली कब तक आयेगी।

लालकुर्ती थाना क्षेत्र के छिपी टैंक रोड पर गोयल बाथ पैलेस वालो का नव निर्माण का सेटिंग आंधी में भरभरा गिरा। बिजली के खंबे पर गिरी सैट्रिंग सड़क पर जा रही कार पर गिरी सैट्रिंग। बड़ा हादसा होने टला, बाल बाल बचे कार सवार, गोयल बाथ पैलेस के मालिक आकाश की बिल्डिंग में चल रहा है निर्माण कार्य। तूफानी हवा और तेज बारिश ने बरपाया कहर लिसाड़ी गेट के अहमदनगर रोड पर दुकान के ऊपरी हिस्से की दीवार गिरी नीचे। जा रहा साइकिल सवार दबा गंभीर रूप से घायल इलाके में मचा हड़कंप।

Show More

Related Articles

Back to top button