गर्मियों में धूप और लू से बचने के उपाय। वर्तमान समाचार

गर्मी का मौसम प्रारंभ हो चुका है और इसके प्रभाव भी दिखने लगे हैं। कई लोग समय से पहले गर्मी के दुष्परिणामों से बचने के लिए उपाय भी खोजने में लगे हुए हैं। कुछ लोग घरेलू उपाय कर रहे हैं , तो कुछ लोग आधुनिक वस्तुओं का इस्तेमाल कर रहे हैं, इस गर्मी से राहत पाने के लिए। गर्मियों के दिनों जो इन सबमें सबसे आम समस्या है वह है गर्म हवाओं का पहरा , जिसे हम लोग के लू के नाम से भी जानते हैं, तो आज हम इस पोस्ट में लू और गर्मी से बचने के उपायों के बारे में चर्चा करेंगे।

किस प्रकार लगती है लू ?

गर्मी के दिनों में गर्म लपटों के ज्यादा संपर्क में रहने से यह गर्म हवाएं शरीर के तापमान को बढ़ा देती है, जिससे शरीर में जल और नमक की कमी हो जाती है, जिसके फल स्वरूप व्यक्ति को सर दर्द, जी मिचलाना, उल्टी, दस्त, बुखार, चक्कर आना जैसे लक्षण तात्कालिक प्रभाव में दिखाई देते हैं।

लू से बचने के लिए उपाय

लू लगने से हमारा पूरा शरीर बीमार और कमजोर हो जाता है। कुछ लोग तो इसे सहन कर जाते हैं, पर कुछ लोगों को यह लू की लपटें सहन नहीं होती है, तो आइए जानते हैं लूं से बचने के उपायों के बारे में –

  • गर्मी के समय गर्म हवाओं का सर्वाधिक प्रभाव दोपहर 12:00 से 3:00 के बीच देखा जाता है।  इस समय में गर्म हवाएं अपने संपूर्ण प्रभाव के साथ चलती है, जिसे हिट स्ट्रांग भी कहा जाता है। इसलिए जहां तक हो सके दोपहर के समय में गर्मी के दिनों में शीतल वातावरण में ही रहें और आवश्यकता पड़ने पर ही कुछ सावधानियों के साथ बाहर निकले।
  • गर्मियों के दिनों में यदि आप बाहर निकलते हैं, तो अपने शरीर को ढीले और सूती कपड़ों से ढंककर हीं उसके बाद निकले। कपड़े पूरी आस्तीन वाले पहने और आंखों को चश्मे आदि से ढक ले, जिससे कि गर्म हवाओं का प्रभाव आप पर कम होगा।
  • घर से निकलते वक्त कुछ ठंडा पीकर और तरल खाना खाकर ही निकलें। कुछ भी तला, भुना और ठोस जंक फूड खाने से बचें।
  • गर्मी में आने वाले मौसमी फलों जैसे तरबूज, आम, ककड़ी इत्यादि का अधिक से अधिक सेवन करें।
  • गर्मियों के दिनों में टाइट और गहरे रंग के कपड़े ना पहनते हुए ढीले और सफेद रंग के कपड़े पहने जो आपके लूं से बचाने में मदद करते हैं।
  • जहां तक हो सके गर्मियों में सूती के कपड़े ही पहने और चिकने , नाॅयलान, टेरीकॉट इत्यादि कपड़े पहनने से बचें।
  • घर से निकलने से पहले अपनी पॉकेट में एक आधा कटा प्याज रख लें, जो आपका लू की हवाओं से बचाव करेगा।
  • हमेशा ठंडे स्थान पर रहे और धूप में निकलने पर हैट या टोपी पहन ले।
  • घरों को ठंडा रखने का प्रयास करें , खिड़कियों पर परदे लगाए जिससे सूरज की सीधी किरणें घर में ना आएं , कूलर-पंखे आदि का इस्तेमाल करें।
  • बाजार में बिक रहे पहले से कटे फलों का सेवन न करें।
  • घर पर फलों के शरबत अथवा जूस का सेवन करें , बाजारू कोलड्रिंक का सेवन कम से कम करें और जितना हो सके शीतल जल पीएं।
  • गर्मियों में आपका भोजन ऐसा हो जो पचने में भी आसान हो और पेट के लिए भी हल्का हो, जिससे आपके पेट को एक्स्ट्रा एनर्जी का उपयोग नहीं करना पड़ेगा। घर से जब भी बाहर निकले तो खाली पेट बिल्कुल भी बाहर ना जाएं।
  • यदि किसी व्यक्ति को लू लग जाएं तो उसे पहले छांव में लेटा दें और उसके कपड़े ढीले कर दें। फिर उस व्यक्ति के पूरे शरीर को ठंडे पानी से साफ करें और सर पर ठंडे पानी की पट्टी को रख दें।
  • एक कटोरी में आप धनिया लेकर उसमें धनिया भिगोकर रखें । फिर उसी धनिये को मसलकर और पीसकर इसका जूस बनाकर पी जाएं, यह आपको लूं से बचाने में बहुत मदद करता है‌।
  • इसके जैसे हीं आप मैथी की पत्तियों को भी पानी में गलाकर और मसलकर शहद के साथ हर दो – दो घंटे में रोगी को पिलाएं, तो उसकी लू उतर जाती है।
  • जब भी आप तेज धूप से होकर घर आएं तो एकदम से ठंडा पानी ना पिएं, थोड़ी देर शांति से बैठिए उसके बाद पानी पीएं। हो सकें तो रेफ्रिजरेटर का पानी पीने की जगह मटके का पानी पीएं।
  • गर्मी के दिनों में पानी में नींबू और शक्कर मिलाकर इस पानी को दिन में दो से तीन बार पीएं, जिससे शरीर में नमक और पानी का स्तर बना रहता है।
  • गर्मी में ज्यादा पसीना होने से हम खुजली और घमौरियों से परेशान हो जाते हैं, तो इसके लिए आप ठंडा पाउडर या फिर बेसन को पानी में घोलकर में घमौरियों वाली जगह पर लगा सकते हैं।
  • आप कोल्डड्रिंक के साथ चाय , काफी से जितना दूर हो सके रहे। क्योंकि इनमें कैफ़ीन की मात्रा अधिक होती है, जिससे शरीर में पानी की कमी होने लगती है।
  • गर्मी में हमारे शरीर से नमक और पानी का एक बड़ा हिस्सा पसीने के रूप में शरीर से बाहर निकल जाता है , जिससे कभी आपको चक्कर या घबराहट जैसा महसूस हो, तो आप इलेक्ट्राल या ओआरएस का घोल थोड़ी थोड़ी देर में पी सकते हैं।
  • अत्यधिक गर्मी के समय में आप सत्तु का प्रयोग करें। यह खाने में भी टेस्टी होता है और साथ ही यह शरीर को स्फूर्ति भी प्रदान करता है।
  • गर्मी में शरीर को रिहाइड्रेट रखने के लिए आप नारियल पानी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अंदर पाएं जाने वाले न्यूट्रिशंस आपको गर्मी में लगने वाली लू के प्रकोप से आपको बचाएंगे।
  • प्रेगनेंट महिलाएं, बच्चे एवं बुजुर्गों को इस समय बिल्कुल विशेष ध्यान दें। छोटे बच्चे इस समय खेलने के लिए धूप में बाहर निकलते हैं, तो उन्हें तेज़ धूप में निकलने से रोके। किसी भी प्रकार की इमरजेंसी के लिए आप डॉक्टर से जरूर सलाह लीजिए।

तो दोस्तों आज इस पोस्ट में हमने आपको लू से बचाव के सारे उपायों के बारे में बता दिया है, तो आप कोशिश करिएगा कि बिना काम के दोपहर के समय घरों से बाहर ना निकलें।

Show More

Related Articles

Back to top button