मनीष सिसोदिया ने जेल से लिखी चिट्ठी कहा देश के प्रधानमंत्री का कम पढ़ा-लिखा होना है खतरनाक। वर्तमान समाचार

दिल्ली में तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली के पूर्व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने देश के नाम एक चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में लिखा है कि पीएम का कम पढ़ा लिखा होना देश के लिए खतरनाक है, उन्होंने कहा देश के प्रधानमंत्री विज्ञान को नहीं समझते ना ही शिक्षा का महत्व समझते हैं। देश के लिए एक पढ़ा लिखा प्रधानमंत्री होना जरुरी है। अपने पत्र में उन्होंने लिखा-

Manish Sisodia Vartman Samachar min
मनीष सिसोदिया

”आज हम 21वीं सदी में जी रहे हैं। दुनियाभर में विज्ञान टेक्नोलॉजी में हर रोज नई तरक्की हो रही है। सारी दुनिया एआई की बातें कर रही है। ऐसे में जब प्रधानमंत्री को ये कहते हुए सुनता हूं कि गंदे नाले में पाइप डालकर गंदी गैस से खाना बनाया जा सकता है। तो मेरा दिल बैठ जाता है, आखिर गंदी गैस से चाय बनाई जा सकती है क्या? नहीं। जब पीएम कहते हैं बादलों के पीछे उड़ते जहाजों को रडार नहीं पकड़ पाता तब सारी दुनिया में वे मजाक का पात्र बनते हैं। स्कूलों मे पढ़ने वाले बच्चे तक उनका मज़ाक बनाते हैं। उनके इस तरह के बयान देश के लिए बेहद खतरनाक हैं। इसके कई नुकसान हैं. जैसे पूरी दुनिया को पता चल जाता है कि भारत के पीएम कम पढ़े लिखे हैं”।

मनीष सिसोदिया ने आगे लिखा कि उन्होंने पीएम का एक वीडियो देखा था जिसमें वे खुद कह रहे थे की वे कम पढ़े-लिखे हैं। केवल गांव के स्कूल तक ही उनकी शिक्षा हुई है। क्या अनपढ़ और कम पढ़ा लिखा होना गर्व की बात है? आगे उन्होंने कहा जिस देश का प्रधानमंत्री ही कम पढ़ा लिखा हो और उसे अपने अशिक्षित होने पर गर्व हो, वह कैसे किसी आम आदमी के लिए अच्छी शिक्षा का प्रबंध कर पाएगा।

Show More

Related Articles

Back to top button