महाराष्ट्र: जयपुर-मुंबई ट्रेन में आरपीएफ जवान ने एएसआई समेत 4 की गोली मारकर हत्या कर दी|वर्तमान समाचार

एक अधिकारी ने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के एक कांस्टेबल ने पालघर जिले के पास जयपुर से मुंबई जा रही एक ट्रेन में एक सहायक उप-निरीक्षक (एएसआई) सहित चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी।

अधिकारी ने बताया कि कांस्टेबल ने अपने स्वचालित हथियार से गोलीबारी की, जिसमें सुबह पांच बजे के बाद जयपुर-मुंबई सेंट्रल एक्सप्रेस के एक आरपीएफ सहायक उप निरीक्षक और तीन अन्य यात्रियों की मौत हो गई।

डीआरएम नीरज ने कहा, “सुबह करीब 6 बजे हमें पता चला कि एक आरपीएफ कांस्टेबल, जो एस्कॉर्टिंग ड्यूटी पर था, ने गोली चला दी, चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हमारे रेलवे अधिकारी मौके पर पहुंचे। परिवारों से संपर्क किया गया है। अनुग्रह राशि दी जाएगी”।

उन्होंने पुष्टि की कि कांस्टेबल चेतन कुमार चौधरी ने उनके एस्कॉर्ट ड्यूटी प्रभारी एएसआई टीका राम मीना पर गोली चलाई। अधिकारी ने बताया कि अपने सीनियर की हत्या करने के बाद कांस्टेबल दूसरी बोगी में गया और तीन यात्रियों की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतकों में से एक की पहचान बिहार निवासी असगर के रूप में हुई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना महाराष्ट्र के पालघर जिला अंतर्गत मीरा रोड स्टेशन के पास सुबह 5:23 बजे मुंबई सेंट्रल एसएफ एक्सप्रेस ट्रेन (12956) के बी 5 कोच में हुई. पालघर मुंबई से लगभग 100 किमी दूर है।

घटना के बाद आरोपी दहिसर स्टेशन पर आपातकालीन चेन खींचकर ट्रेन से उतर गया, हालांकि, मुंबई रेलवे पुलिस ने उसे भयंदर स्टेशन पर हिरासत में ले लिया। आरोपी लोअर परेल वर्कशॉप में तैनात था।

पश्चिम रेलवे के सीपीआरओ ने कहा, “मुंबई-जयपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस में आज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना की सूचना मिली है। एक आरपीएफ कांस्टेबल चेतन कुमार ने अपने सहयोगी एएसआई टीकाराम मीना पर गोली चला दी और घटना के दौरान तीन अन्य यात्रियों को भी गोली लग गई। प्रारंभिक के अनुसार जांच के दौरान उसने अपने सरकारी हथियार से गोली चलाई। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। गोलीबारी का कारण अभी स्पष्ट नहीं है, हम इसकी जांच कर रहे हैं”।

गोलीबारी के पीछे का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है, रेलवे पुलिस आयुक्त और वरिष्ठ अधिकारी बोरीवली जीआरपी पुलिस स्टेशन पहुंचे हैं जहां वे आरोपि से पूछताछ कर रहे हैं। एएसआई टीका राम को करीब 5.5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

Show More

Related Articles

Back to top button