गुलाम नबी आज़ाद के इंटर्वयू को लेकर क्या बोले हिमंता बिस्वा सरमा, क्यों छोड़ी थी पार्टी। वर्तमान समाचार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने शनिवार सुबह जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आज़ाद का एक पुराना इंटर्वयू शेयर किया। उन्होंने कहा कि गुलाम नबी आजाद ने उनके कांग्रेस पार्टी को छोड़ने के फैसले के खिलाफ आवाज़ उठाई थी। हालांकि वे उन्हे ज्याद दिन तक रोक नहीं पाए 12 महीनों के बाद उन्होंने 2015 अगस्त के महीने में पार्टी छोड़ दी थी। मोजो को दिए गए एक इंटर्वयू में गुलाम नबी आज़ाद ने बताया कि ‘जब हिमंत बिस्वा शर्मा ने 45 विधायकों के समर्थन से बगावत कर दी थी और कांग्रेस की सरकार गिरने को थी तब आज़ाद को ही मामले में दखल देने के लिए असम भेजा गया था’।

Himanta Biswa Sarma Vartman Samachar
हिमंता बिस्वा सरमा

इतना ही नहीं उन्होंने यह भी बताया कि जब वे राहुल गांधी से मिलने पहुंचे तब वे तरुण गोगोई और उनके बेटे गौरव गोगोई के साथ चाय पी रहे थे। राहुल ने उनसे कहा कि ‘उन्हें पता चला है कि हम लोग तरुण गोगोई को काफी परेशान कर रहे हैं’। जिसके बाद मैंने उन्हें बताया कि हिमंता पार्टी छोड़ देगा तब उन्होंने कहा कि जाने दो RSS में। वे हमेशा यही बोलते थे यह उनका तकिया कलाम बन गया था। वे BJP का भी नाम नहीं लेते थे हर बात पर RSS को बीच में लाना उनकी आदत हो गई थी’।     

Show More

Related Articles

Back to top button