केरल में कोविड सबवेरिएंट जेएन.1 मामले का पता चला, अधिकारी निगरानी रख रहे हैं| वर्तमान समाचार

केरल में एक नया कोविड सबवेरिएंट जेएन.1 मामला सामने आया है, जिससे स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंताएं बढ़ गई हैं। यह मामला 8 दिसंबर को सामने आया था जब एक 79 वर्षीय महिला 18 नवंबर को किए गए आरटी-पीसीआर परीक्षण में पॉजिटिव पाई गई थी। उसमें इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारियों के हल्के लक्षण दिखे थे और वह ठीक हो गई थी।

इससे पहले, सिंगापुर में एक भारतीय यात्री को भी JN.1 सब-वेरिएंट का पता चला था। वह व्यक्ति तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले का मूल निवासी था और उसने 25 अक्टूबर को सिंगापुर की यात्रा की थी।

तिरुचिरापल्ली जिले या तमिलनाडु के अन्य स्थानों में स्ट्रेन पाए जाने के बाद मामलों में कोई वृद्धि नहीं देखी गई।

नेशनल इंडियन मेडिकल एसोसिएशन कोविड टास्क फोर्स के सह-अध्यक्ष राजीव जयदेव ने कहा, “सात महीने के अंतराल के बाद, भारत में मामले बढ़ रहे हैं। केरल में, लोगों के कोविड से संक्रमित होने की खबरें हैं, लेकिन अब तक गंभीरता पहले जैसी ही प्रतीत होती है।” समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, राजीव जयदेवन ने जानकारी दी है कि जेएन.1 वैरिएंट तेजी से फैलने और रोग प्रतिरोधक क्षमता से बचने में सक्षम है।

उन्होंने आगे कहा, “जेएन.1 एक गंभीर रूप से प्रतिरक्षा-रोधी और तेजी से फैलने वाला वैरिएंट है, जो एक्सबीबी और इस वायरस के अन्य सभी पूर्व संस्करणों से स्पष्ट रूप से अलग है। यह उन लोगों को संक्रमित करने में सक्षम बनाता है जिन्हें पहले भी कोविड संक्रमण हुआ था और जिन लोगों को टीका लगाया गया था, उन्हें भी संक्रमित करने में सक्षम बनाता है।”

इस खास वेरिएंट के मामले दूसरे देशों में भी सामने आए हैं।

भारत में शनिवार को 300 से अधिक मामले सामने आए

शनिवार को अपडेट किए गए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में एक दिन में 339 नए सीओवीआईडी ​​​​-19 संक्रमणों की वृद्धि दर्ज की गई, जबकि सक्रिय केसलोएड बढ़कर 1,492 हो गया।

सुबह 8 बजे अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार मरने वालों की संख्या 5,33,311 (5.33 लाख) दर्ज की गई। देश में वर्तमान में कोविड मामलों की संख्या 4,50,04,481 (4.50 करोड़) है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, इस बीमारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या वर्तमान में 4,44,69,678 (4.44 करोड़) है, जबकि राष्ट्रीय रिकवरी दर 98.81 प्रतिशत है।

मामले की मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है।

मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, देश में अब तक 220.67 करोड़ कोविड वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

Show More

Related Articles

Back to top button