आतंकियों पर बड़ी कार्रवाई केंद्र सरकार ने लगाया 14 विदेशी मोबाइल एप्लिकेशन पर बैन। वर्तमान समाचार

नई दिल्ली: आतंकी गतिविधियों को एक बड़ा झटका देते हुए केंद्र सरकार ने 14 मोबाइल मैसेजिंग एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया है। जानकारी के मुताबिक इन एप्लिकेशन का प्रयोग आतंकी कोडड भाषा में मैसेज को पाकिस्तान भेजने और रिसीव करने के लिए इस्तेमाल करते थे। आतंकी इन ऐप्स के माध्यम से पाकिस्तान में बैठे अपने हैंडलर्स और समर्थकों से बात करने के लिए इस्तेमाल किया करते थे। जिन 14 एप्लिकेशन्स पर प्रतिबंध लगाया गया है उनके नाम हैं- क्रिपवाइजर, एनिग्मा, सेफस्विस, विकरमे, मीडियाफायर, ब्रियर, बीचैट, नंदबॉक्स, कोनियन, आईएमओ, एलिमेंट, सेकेंड लाइन, जांगी और थेरेमा। सूत्रों के मुताबिक यह कार्रवाई खूफिया एजेंसीयों के कहने पर सरकार द्वारा की गई है। इन ऐप्स पर पहले से ही निगरानी रखी जा रही थी। ये ऐप्स राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बन चेक थे, ये भारतीय कानूनों का पालन भी नहीं करते थे। इन ऐप्स से संबंधित मंत्रालय को उन पर प्रतिबंध लगाने के अनुरोध के बारे में सूचित किया गया था। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि “इन ऐप्स को सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 की धारा 69ए के तहत प्रतिबंधित किया गया है”। एएनआई से मिली जानकारी के मुताबिक ये ऐप्स कश्मीर घाटी के अंदर आतंक को बढ़ावा दे रहे थे और उसका दुषप्रचार करने का काम करते थे। सुरक्षा एजेंसीयां लगातार OG’s यानि ओवरग्राउंड वर्कर्स और आतंकियों के बीच लगातार होने वाली बातचीत पर नजर बनाए हुए थीं। एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उनकी बातचीत के एक सिग्नल को ट्रैक करते वक्त एजेंसियों ने पाया कि मोबाइल एप्लिकेशन का भारत में कोई और प्रतिनिधि नहीं है, और ऐप पर होने वाली गतिविधियों को ट्रैक करना बहुत मुश्किल है। इसीलिए वे इन ऐप्स का इस्तेमाल करते थे।  

Show More

Related Articles

Back to top button