अभिनेत्री जिया खान सुसाइड केस में अभिनेता सूरज पंचोली नहीं पाए गए दोषी। वर्तमान समाचार

अभिनेत्री जिया खान आत्महत्या मामले में लगभग एक दशक बाद, मुंबई की एक विशेष सीबीआई अदालत ने आज उनके प्रेमी और फिल्म स्टार बॉयफ्रैंड सूरज पंचोली को जिया को उकसाकर आत्महत्या करने के आरोपों से बरी कर दिया है। अभिनेत्री जिया खान ने 25  जून, 2013 को मुंबई में अपने जुहू स्थित घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उनकी बॉडी जुहू स्थित उनके फ्लैट में लटकी पाई गई थी। बाद में पुलिस ने कथित तौर पर जिया द्वारा लिखे गए छह पन्नों के पत्र के आधार पर सूरज पंचोली को गिरफ्तार कर लिया और उन पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया था। वहीं जिया की मां राबिया खान ने दावा किया था कि यह आत्महत्या नहीं है बल्कि उनकी बेटी की  हत्या की गई है। सीबीआई की एक विशेष अदालत ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए कहा कि सबूतों की कमी के कारण सूरज पंचोली को रिहा किया जाता है। बता दें कि 32 वर्षीय सूरज पंचोली जाने माने फिल्म अभिनेता आदित्य पंचोली और ज़रीना वहाब के बेटे हैं। खबर है कि दोषी पाए जाने पर सूरज पंचोली को 10 साल जेल की सजा होनी थी। लेकिन कोर्ट से बरी होने के बाद सजा को रद्द कर दिया गया है।

जिया की मां ने लगाए था हत्या का आरोप।

अभिनेत्री जिया खान की मां राबिया खान जो इस पूरे मामले में एक प्रमुख गवाह भी हैं, उन्होंने अदालत से कहा था कि उनका मानना ​​है कि यह हत्या का मामला है न कि आत्महत्या का। अभी पिछले ही वर्ष बंबई उच्च न्यायालय ने मामले की नए सिरे से जांच की मांग वाली उनकी याचिका को खारिज कर दिया था। सूरज पंचोली को बरी किए जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए जिया की मां राबिया ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उनकी बेटी कभी भी आत्महत्या नहीं कर सकती, उसकी हत्या हुई है। कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ वे सुप्रीम कोर्ट जाएंगी।

Show More

Related Articles

Back to top button